BastarBilaspurChhattisgarhDurgRaipurSurguja

छत्तीसगढ़ के जशपुर नगर में हाथी की करंट लगने से हुई मौत

जशपुर नगर। छत्तीसगढ़ के जशपुर नगर में हाथी की करंट लगने से मौत की खबर सामने आई है। इससे पहले भी राज्य में करंट लगने से हाथियों की मौत खबर सामने आती रही हैं।बाड़ी में लगे करंट प्रवाहित तार के सम्पर्क में आने से हाथी की मौत हो गई। घटना तपकरा थाना क्षेत्र के झिलिबेरना गांव की है। जानकारी के मुताबिक, इस गांव के निवासी रंजीत किस्पोट्टा ने अपने घर की बाड़ी में करंट प्रवाहित तार बिछा रखा था। गुरुवार और शुक्रवार की दरम्यानी रात इस क्षेत्र में दल से अलग हो कर भटक रहा एक हाथी इसके सम्पर्क में आ गया। करंट लगने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

घटना की सूचना पर मौके तपकरा के रेंजर अभिनव केसरवानी सहित वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची। पूछताछ के दौरान आरोपित रंजीत केरकेट्टा ने स्वीकार किया कि करंट प्रवाहित तार उसी ने बॉडी में लगा रखा था। 2013 से वह हाथी से बचने के लिए ऐसा करते आ रहा है। मामले में आरोपित के खिलाफ वन्य प्राणी सुरक्षा अधिनियम के तहत कार्रवाई की जा रही है। तीन माह के अंदर जिले में हाथी की मौत की यह दूसरी घटना है। इससे पहले नारायणपुर में एक गर्भवती हथिनी की मौत हुई थी।

पहले भी सामने आ चुके हैं ऐसे मामले

बता दें इससे पहले भी हाथियों की मौत के मामले की खबरे देश के कोने-कोने से सामने आई हैं। इससे पहले पिछले दिनों केरल में एक गर्भवती हथिनी को पटाखों से भरा अनानास खिलाने का मामला सामने आया था। यह मामला सोशल मीडिया पर भी जमकर ट्रेंड हुआ था। इस दौरान हथिनी के आरोपी के खिलाफ एक्शन लेने की मांग की थी। इस दौरान कई आरोपित की इस मामलों में गिरफ्तारी हुई थी। इसके केस के सामने आने के बाद देश के कई हिस्सों से वन्यजीवों पर इंसानों द्वारा अत्याचार करने के मामले सामने आए थे।

Leave a Reply

Back to top button